Olymp Trade

OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

News and Posts in Hindi

अपने नवीनतम लेख में, हमने अपने पसंदीदा ऑप्शन ब्रोकर – Olymp Trade के टर्मिनल का विश्लेषण किया। और आज हम विस्तार के साथ ब्रोकर Olymp Trade के प्लेटफ़ॉर्म पर मौजूद सबसे अधिक प्रासंगिक और विश्वसनीय संकेतकों की समीक्षा करेंगे।

सबसे पहले, संकेतकों के बारे में कुछ तथ्य होते हैं। संकेतक एक प्रकार से विशेषज्ञ सलाहकार होते हैं, यह एक व्यक्ति के रूप में चार्ट का विश्लेषण करता है और इसकी आगे की गतिविधियों की कल्पना करता है। हम ध्यान दिलाना चाहेंगे कि यह कल्पना तो करता है लेकिन 100% गारंटी नहीं देता। वह महत्वपूर्ण बात है। इसके अलावा, विश्लेषण के लिए विभिन्न संकेतक अलग-अलग दृष्टिकोणों और सूत्रों का उपयोग करते हैं, और उनकी “धारणाएं”, लोगों की धारणाओं से भिन्न हो सकती हैं। संकेतकों का उपयोग करने के लिए निम्नलिखित बुनियादी नियमों को भी लागू किया जाता है। हम उन पर चर्चा करेंगे और संकेतकों और उनके संकेतों का विश्लेषण करना जारी रखेंगे।

OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

संकेतकों के साथ काम करने के नियम:

  • ऐसा कोई संकेतक नहीं है जो 100% सही (सकारात्मक) संकेत देता हो। हमेशा गलत संकेतों का एक निश्चित प्रतिशत होता है। जो हमें नियम 2 पर लाता है।
  • एक ही समय में कई संकेतकों का उपयोग करें, क्योंकि प्रत्येक संकेतक के गलत और सही संकेत होते हैं, और दो संकेतकों का उपयोग करने से गलत और, दुर्भाग्य से, सही संकेतों, दोनों कम हो सकते हैं। लेकिन सीधे तौर पर 3 …. 5 या अधिक संकेतक का उपयोग न करें, क्योंकि ऐसा लोगों – सलाहकार की कंपनी में हो सकता है, हर कोई अपने संकेतों की पेशकश करेगा और ट्रेडिंग रणनीति बिल्कुल काम नहीं करेगी!
  • अलग-अलग समय सीमाओं (TF) के साथ जाँच करें। इस नियम का मतलब यह है कि कोई संकेतक अलग-अलग समय सीमाओं में अलग-अलग व्यवहार कर सकता है। उदाहरण के लिए, यदि आपके पास एक तेज़ समय सीमा (1-15 मिनट) है, तो वही गतिशीलता 1 घंटे या उससे अधिक समय सीमा के मुकाबले अधिक आक्रामक व्यवहार कर सकती है।
  • विभिन्न जोड़ियों और असेट्स के साथ जाँच करें। वह भी एक बहुत महत्वपूर्ण नियम है। एक संकेतक अलग-अलग असेट्स के साथ अलग-अलग तरीके से व्यवहार कर सकता है, और उदाहरण के लिए, मुद्रा की जोड़ियों इत्यादि के साथ गलत सिगनल्स कम होंगे। यह सब इस तथ्य के कारण है कि समाचार और अन्य कारकों से विभिन्न असेट्स प्रभावित होते हैं, जो बदले में संकेतक के परिणामों को प्रभावित करते हैं।
  • और अंत में – विभिन्न मापदंडों वाले संकेतक की जाँच करना सुनिश्चित करें। कई संकेतकों के अपने आंतरिक पैरामीटर होते हैं, जिनके परिवर्तन आपको बहुत छोटी दिशा में गलत संकेतों की संख्या को समायोजित करने की अनुमति देता है! जाँच करें!

दलाल के पास जाओ OLYMP TRADE

इसलिए संकेतकों के बारे में सारांश – उनकी जाँच करना, परीक्षण करना और सीखना है! ऐसा ही करें और फिर सब कुछ होने लगेगा! अब आइए Olymp Trade के प्लेटफ़ॉर्म पर प्रयुक्त संकेतकों की समीक्षा शुरू करते हैं।

हम निम्नलिखित तरीके से समीक्षा करेंगे। हम संकेतक का नाम, और उसका संक्षिप्त विवरण लिखते हैं तथा आरेख / ऑप्शन सेल्स में खरीद के बिंदु को तीर से इंगित करते हैं- वे ही संकेत होते हैं!

  1. गतिमान माध्य। गतिमान माध्य
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

वे कुछ वक्रों का प्रतिनिधित्व करते हैं। उनके पास केवल एक पैरामीटर – मध्यान्तर होता है। इसे बदलकर, हम वक्रों को बहुत तेज़ और सुगम दोनों बना सकते हैं। इसका मतलब चार्ट पर कई (कम से कम दो) वक्रों को रखना और उनके कटावों की निगरानी करना है।

सिग्नल: यदि तेज़ वक्र धीमें वाले को क्रॉस करता है, तो यह एक सिग्नल होता है! इस मामले में, अगर कटाव नीचे से ऊपर की ओर होता है – तो यह खरीद का संकेत है। जब ऊपर से नीचे की ओर कटाव होता है – तो यह बिक्री का संकेत होता है! यह आसान है!

  1. पैराबोलिक SAR। SAR का मतलब STOP और REVERSE होना है। नाम से ही यह बिलकुल स्पष्ट है कि संकेतक असेट की गति के ठहराव और मोड़ को दर्शाता है। यह संकेतक बहुत लोकप्रिय है और निश्चित रूप से, यह Olymp Trade के टर्मिनल पर मौजूद है।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

सिग्नल: उस समय जब संकेतक के बिन्दु चार्ट के विपरीत छोर पर “फेंक” दिए जाते हैं, तो आप इसे एक संकेत के रूप में और ट्रेड खोलने के क्षण के रूप में देख सकते/सकती हैं। गलत संकेतों के बारे में मत भूलें। और अतिरिक्त इंडिकेटरों को कनेक्ट करें।

  1. MACD. यह संकेतक गतिमान माध्यों का उपयोग करता है लेकिन यह अधिक सूचनात्मक होता है। इसे समायोज्य मापदंडों और एक हिस्टोग्राम वाले दो गतिमान माध्यों के रूप में प्रस्तुत किया जाता है। ये सभी रेखाएँ शून्य रेखा के ऊपर और नीचे दोलन करती हैं। हम निश्चित रूप से इस पर ध्यान देंगे।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

सिगनल्स  सिग्नल दो तरह के होते हैं। गतिमान औसत की क्रॉसिंग, जैसा कि संकेतक 1 में है। दूसरा सिग्नल तब होता है जब हिस्टोग्राम शून्य के स्तर को पार कर जाता है। कटाव की दिशा में ट्रेड खोला जाना चाहिए! चित्र को देखें।

  1. संकेतक – RSI ऑसिलेटर। यह संकेतक समायोज्य मापदंडों वाली एक प्रकार की टूटी हुई रेखा है।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

सिगनल्स  इंडिकेटर चार्ट पर दो रेखाएँ – 30 और 70 हैं, हमारी दिलचस्पी उनके कटावों में होगी। इसलिए, यदि इंडिकेटर का वक्र शीर्ष से नीचे की ओर 70 के स्तर को क्रॉस करता है – तो यह विक्रय का संकेत है। यदि इंडिकेटर की रेखा नीचे से ऊपर की ओर 30 के स्तर को क्रॉस करती है, तो यह खरीदने का संकेत है! जाँच करें!

  1. ऑसम ऑसिलेटर। AKA एक अद्भुत ऑसिलेटर है। शायद, यह मेरा पसंदीदा इंडिकेटर है, निश्चित रूप से यह Olymp Trade के प्लेटफॉर्म पर आधारित है।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

यह एक हिस्टोग्राम है जो शून्य के स्तर के सापेक्ष ऊपर-नीचे होता रहता है। हरी रेखाओं का अर्थ असेट का प्रमुख भाग की ऊपरी गति, और लाल – नीचे की गति है। आपको किस पर ध्यान देना चाहिए?

सिगनल्स  दो प्रकार के संकेत हैं – शून्य चिह्न वाले हिस्टोग्राम को क्रॉस करने पर – कटाव की दिशा में ट्रेड खोलें। दूसरा संकेत एक “उभार” होता है, जो हिस्टोग्राम के रंग में बदलाव है, उदाहरण के लिए, हरे से लाल में, जब हिस्टोग्राम 0 के निशान से ऊपर होता है। यह बिक्री का सिग्नल होता है। यदि हिस्टोग्राम शून्य से नीचे है और हिस्टोग्राम का रंग लाल से हरे में बदल जाता है – तो यह खरीद का सिग्नल होता है!

दलाल के पास जाओ OLYMP TRADE

  1. बोलिंगर बैंड्स। इस संकेतक को एक निश्चित चैनल में रखते हुए असेट चार्ट द्वारा कवर किया जाएगा। चित्र से पता चलता है कि अपनी सीमा के भीतर कीमत लगभग हमेशा उतार-चढ़ाव करती रहती है। और जैसे ही यह चैनल से बाहर आता है, यह चैनल में और विपरीत दीवार पर वापस चला जाता है।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं
    सिग्नल: चैनल के बाहर के असेट चार्ट से शॉर्ट-टर्म का रास्ता चैनल को रिटर्न कॉल के किनारे से ट्रेड खोलने का संकेत होता है। बस इतना ध्यान दें, कि चैनल की दीवार का एक लंबा स्पर्श चार्ट का पलटाव होता है और पलटाव की दिशा में ट्रेड खोलने के लिए एक संकेत है!हम आगे भी Olymp Trade
  2. के भरोसेमन्द प्लेटफॉर्म संकेतकों की समीक्षा कर रहे हैं।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

स्टोकास्टिक। यह एक विशिष्ट ऑसिलेटर है – शून्य बिंदु के सापेक्ष एक वक्रीय दोलन रेखा। इस मामले में, दो रेखाएँ होती हैं। उनकी गति और कटाव हमें असेट के परिवर्तन की संभावित दिशा को दर्शाते हैं। सिग्नल का स्तर 20% और 80% होता है।

सिग्नल: जब ऊपर से नीचे की ओर 80 वाले निशान को ऑसिलेटर की दोनों रेखाएं क्रॉस करती हैं – तो डाउन ट्रेड खोलें। और जब दोनों रेखाएं नीचे से ऊपर की ओर 20 के स्तर को पार करती हैं – तो अप ट्रेड खोलें। कितना आसान है न? आइए इसकी जाँच करते है!

  1. CCI. Olymp Trade के प्लेटफ़ॉर्म के अन्य संकेतकों के साथ एक ही ऑसिलेटर का उपयोग किया जा सकता है। वक्र शून्य बिंदु के सापेक्ष उतार-चढ़ाव करता है, कभी-कभी यह 100 और -100 के स्तर को पार करता है। हम उन पर अपना ध्यान देंगे।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

सिग्नल: कई अन्य ऑसिलेटर्स की ही तरह, आइए वक्र के विचलन पर नज़र डालते हैं। यदि विचलन के बाद वक्र ऊपर से वापस लौटता है और नीचे से ऊपर की ओर 100 के स्तर को पार करता है, तो यह डाउन ट्रेड खोलने का एक संकेत है। यदि यह नीचे विचलन करता है, तो वक्र वापस लौटता है और नीचे से ऊपर की ओर -100 के स्तर को पार कर जाता है, यह खरीदने वाला ट्रेड खोलने का समय है!

  1. एलीगेटर। संकेतक को सीधे असेट के चार्ट पर थोप दिया जाता है। इसमें तीन गतिमान औसत शामिल होते हैं। तेज, मध्यम और धीमा। एक निश्चित मान द्वारा प्रत्येक को बाईं ओर स्थानांतरित किया जाता है (इसे सेट किया जा सकता है)। एक ही समय में हम तीनों की गति में उतार-चढ़ाव और उनके प्रतिच्छेदन को देखते हैं। कभी-कभी हम देखते हैं कि पार करने के बाद वक्र कैसे मुड़ना आरम्भ करते हैं और बिना पार किए किसी भी दिशा में चले जाते हैं। यह एलीगेटर के मुंह के साथ की गई एक तुलना है। जब रेखाएँ काटती हैं – तो मुंह बंद हो जाता है, और जब रेखा फैलना आरम्भ होती है और बिना क्रॉस किए चली जाती है – “मुंह खुल जाता है”।
    OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

सिग्नल: विसंगति असमानताओं की दिशा में ट्रेड खोलने का एक संकेत होता है (एलीगेटर “खाना ” शुरू करता है) – हम रुझान के परिवर्तन का अवलोकन कर सकते हैं! यदि रेखाएँ लगातार पार होती हैं, लेकिन विचलन (रेड क्रॉस) नहीं करती हैं, तो एलिगेटर “सो रहा है”, हम कोई ट्रेड नहीं खोलते हैं और इंतजार करते हैं!

शायद यही सब हम आपको Olymp Trade के ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के संकेतकों के बारे में बताना चाहते थे। अगला लेख Olymp Trade के साथ लाभदायक ऑप्शन ट्रेड करने के लिए तीन नई रणनीतियों की समीक्षा करने पर समर्पित होगा। ध्यान से देखिएगा!

हमारी शुभकामनाएँ और Olymp Trade में आपसे मिलते हैं!

दलाल के पास जाओ OLYMP TRADE

OlympTrade प्लेटफार्म के शीर्ष 9 इंडिकेटर। हम ऑप्शन्स का ट्रेड किसी विश्वसनीय ब्रोकर के साथ करते हैं

 
Total Page Visits: 631 - Today Page Visits: 21

Добавить комментарий